Ep22: चमगादड़ों की सनसनी के बीच खौफनाक मंज़र.

दास्तान खौफ की

Apr 18 2022 • 12 mins

पूना के रहने वाले सचिन के परिवार में उसके पिता दो बच्चे और पत्नी है. एक छोटी सी प्राइवेट नौकरी के भरोसे सचिन अपने परिवार को पाल रहा है. उसके बुजुर्ग पिता एक तरह से उसी की जिम्मेदारी हैं क्योंकि सचिन के पिताजी भी एक प्राइवेट नौकरी ही किया करते थे. उन्हीं सेठ के यहां सचिन ने भी अकाउंटेंसी का काम शुरू कर दिया था, इसलिए आर्थिक स्थिति पहले से ही बहुत ज्यादा अच्छी नहीं थी. आज के दौर में महंगाई से परेशान सचिन के लिए घर चलाना मुश्किल हो रहा था. इसी बीच पेट्रोल के बढ़ते दामों ने उसकी कमर तोड़ कर रख दी. अब रोज 20 किलोमीटर बाइक से आना-जाना उसे महंगा लगने लगा था. सेठ से उसने पगार बढ़ाने की बात की तो सेठ ने उल्टा उससे यह कह दिया कि तुम्हारे पिताजी ने जिंदगी भर हमारी सेवा की है और मैं नहीं चाहता कि तुम्हारी जगह किसी और को नौकरी पर रख लूं. इसके बाद सुनिए क्या हुआ ?

See omnystudio.com/listener for privacy information.